Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
Search Trains
 ↓ 
×
DOJ:
Dep:
SunMonTueWedThuFriSat
Class:
2SSLCCEx3AFC2A1A3EEA
Type:
 

Train Details
Words:
LHB/ICF:
Pantry:
In-Coach Catering/Pantry Car
Loco:
Reversal:
Rake Reversal at Any Stn
Rake:
RSA:
With RSA
Inaug:
 to 
# Halts: to 
Trvl Time: to  (in hrs)
Distance: to  (in kms)
Speed: to  (in km/h)

Departure Details
Include nearby Stations:      ONLY this Station:
Dep Between:    
Dep PF#:
Reversal:
Rake Reversal at Dep Stn

Arrival Details
Include nearby Stations:      ONLY this Station:
Arr Days:
SunMonTueWedThuFriSat
Arr Between:    
Arr PF#:
Reversal:
Rake Reversal at Arr Stn

Search
4-month Availability Calendar
  Go  

रेलफैनों को आता है ज़िन्दगी का मज़ा लेना

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu Aug 22 07:03:29 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Stream
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Post BlogPost Trn TipPost Stn TipAdvanced Search
Tip Filters:       

Travel Tips
Page#    10529 Travel Tips  next>>
  
04
Station Tip
General
0 Followers
329 views
Yesterday (14:20)   RDRA/Ramdevra (2 PFs)

🇮🇳 अखंड भारत 🇮🇳 महा भारत 🇮🇳^~   9438 blog posts   278 correct pred (62% accurate)
Entry# 4406668            Tags   Past Edits
उत्तर पश्चिम रेलवे का रामदेवरा स्टेशन श्रद्धालुओं की अगवानी के लिए तैयार है। अब रामदेवरा आने वाले यात्री स्टेशन पर मुफ्त हाई-स्पीड #WiFi का आनंद ले सकते हैं।
click here
  
07
Station Tip
General
0 Followers
154 views
Yesterday (16:15)   DWK/Dwarka (2 PFs)

Sriram321ayyappa   4 blog posts
Entry# 4406733            Tags   Past Edits
Nice Place to visit
#Autos in this place are genuine they will take 10 RS to Temple,and 700 RS for inner tour,
#Dormitory and Rooms are available for Resonable price in Railway station better to book from online, booking is opening Now
#Food after completing the tour try to take food in temple area only because ther is no food
...
more...
out let's in station........nice place for Family trip for two days tour
Enjoy 😄😄😄😄😄

2 Public Posts - Yesterday
  
03
Train Tip
General
0 Followers
1111 views
Feb 26 (16:26)   19251/Somnath - Okha Express

siddhanth393   33 blog posts   615 correct pred (87% accurate)
Entry# 4243217            Tags   Past Edits
Best way of transport from SMNH to DWK, especially after watching the laser show and having dinner, one can easily board this train. Generally available. Clean coaches.

1 Public Posts - Tue Feb 26, 2019
  
01
Station Tip
Pilgrimage
0 Followers
476 views
Aug 19 (14:15)   BRKB/Bharat Khand (2 PFs)

🇮🇳 अखंड भारत 🇮🇳 महा भारत 🇮🇳^~   9438 blog posts   278 correct pred (62% accurate)
Entry# 4405012            Tags   Past Edits
***एतिहासिक भरतखंड किला (बाबन कोठली तिरपन द्वार)***
स्थान :- खगड़िया जिले के गोगरी प्रखंड अंतर्गत सौढ दक्षिणी पंचायत के भरतखंड गांव का ढाई सौ साल पुराने बाबन कोठली तिरपन द्वार के नाम से विख्यात पक्का एवं सुरंग को देखने के बिहार ही नहीं अन्य राज्यों के दुर दराज से कोने-कोने से लोग आते हैं।
यह धरोहर जाह्नवी (गंगा) के तट पर अवस्थित है।
*बनाया
...
more...
गया*:-
18वीं सदी में सोलंकी वंश के राजा मध्यप्रदेश के तरौआ निवासी बाबू बैरम सिंह ने मुगलकालीन कारीगर बकास्त मिया के हाथों 52 कोठरी, 53 द्वार का निर्माण कराया था।
जानकार बताते हैं कि इस कारीगर के नेतृत्व में तत्कालीन मुंगेर जिला के खगड़िया अनुमंडल में भरतखंड का पक्का, भागलपुर जिला के नारायणपुर - बिहपुर स्थित नगरपाड़ा का कुआँ एवं मुंगेर का किला कारीगरों ने बनाया था। लोग इस तीनों ऐतिहासिक धरोहर को क्षेत्र के लिये गौरव करार देते हैं।
महल की भव्यता का अंदाजा इससे भी लगाया जा सकता है कि, उक्त महल पांच बिघा, पांच कट्ठा, पांच धूर व पांच धुरकी में है।
*बनावट*:-
यह महल सुरखी चूना, कत्था, तथा राख से बनाया गया है। महल में माचिस आकार के ईंट से लेकर दो फीट तक के कई तरह के ईंटों का प्रयोग किया गया है।
महल में कुल 52 कोठली व 53 द्वार बनाए गए हैं। लोग उक्त महल को बावन कोठली तिरेपन द्वार के नाम से भी संबोधित करते हैं। बोलचाल में लोग इसे भरतखंड का पक्का भी कहते हैं।
इस खूबसूरत महल के प्रांगण में एक चमत्कारी मंडप एवं सुरंग का निर्माण कराया गया था।
महल की भव्यता, बनावट व मजबूती देख लोग प्रभावित हुए बैगर नहीं रह पाते हैं।
*किवदंती*:-
कहा जाता है उस वक्त भूल वश महल में कोई व्यक्ति प्रवेश कर जाते थे तो निकलना आसान नहीं होता था।
महल की बनावट में सभी द्वार अलग अलग तरीकों की सजावट दिवाल पर आज भी जीवित हैं। इतना पुराना महल होने के बावजूद भी कारीगरों द्वारा दिवाल पर नक्काशी आज भी लोग देखने के लिए आते हैं इतिहासकारों का मानना है कि यह हमारी धरोहर है।
कभी इसे देखने के लिये देश-विदेश के लोग पहुंचते थे।
उस जमाने में इसे लोग भरतखंड नहीं वटखंड के नाम से जानते थे।
यह भरतखंड सम्पूर्ण जिला के लिये गौरव हुआ करता था।
*52 कोठरी, 53 द्वार की विशेषता*:-
जानकारों के मुताबिक भरतखंड के ऐतिहासिक भवन के प्रागण में बने चमत्कारी मंडप के चारो खंभों पर चोट करने पर अलग-अलग तरह की मनमोहक आवाज सुनाई देती थी। इतना ही नहीं कारीगरों द्वारा बनाए गए सुरंग से राजा बाबू बैरम सिंह की रानी साहिवा गंगा स्नान करने प्रतिदिन जाया करती थी।
कभी इस महल की तुलना जयपुर के हवा महल से की जाती थी।
महल के अंदर का तापमान 10-22 डिग्री सेंटीग्रेड तक ही सीमित रहता था।
करीब छह एकड़ में फैले इस महल को बनाने में 52 तरह के ईंट का इस्तेमाल किया गया था। दरबाजे के आकार का अलग ईंट, खिड़की के आकार का अलग ईंट, दीवार की गोलाई के अनुरूप अलग ईंट का प्रयोग किया गया था। गंगा व बूढ़ी गंडक के किनारे अवस्थित होने के कारण इसकी अपनी अलग पहचान थी।
*कोसी कॉलेज के इतिहास विषय के विभागाध्यक्ष प्रो. (डॉ.) संजीव नंदन शर्मा कहते हैं कि*:-
1750-60 के काल में बंगाल के नवाब से से अनुमति लेकर बैरम सिंह ने इस भव्य महल का निर्माण कराया था। उन्होंने कहा कि सोलंकी राजवंश के बाबू बैरम सिंह के बाद बाबू गणेश सिंह (वीरबन्ना) और बाबू दिग्विजय सिंह ने संजोय कर रखा था। आज इसके वंशज स्व. बाबू राजेन्द्र प्रसाद सिंह उर्फ हीरा बाबू के बेटे जितेन्द्र कुमार सिंह उर्फ पन्ना बाबू व गणेश बाबू हैं।
बताया कि इसका निर्माण जिस उत्साह के साथ किया गया था लेकिन उतना इसका उपयोग नहीं हो सका। बताया गया कि एक अज्ञात आत्मा की भय से 30 वर्ष के भीतर ही बैरम सिंह सपरिवार महल छोड़ दिये। जबकि गांव के बुजूर्गों का कहना है कि राजा को पुत्र नहीं होने के कारण उसने यह महल छोड़ा।
इधर, नगरपाड़ा गाव में कारीगरों द्वारा एक विशाल कुआँ का निर्माण किया गया था। इस कुएं की भी अलग ख्याति थी। वहीं, दूसरी ओर मुंगेर के किला की बनावट, रक्षात्मक मुख्य द्वार निर्माण एवं किला के चारों ओर गंगा नदी के जलधारा के प्रवाहित होने का दृश्य आज भी आकर्षण का केंद्र है।
*बौद्ध भिक्षुओं का रहा है तप स्थल*:-
प्रो. शर्मा बताते हैं कि18वीं सदी में भरतखंड का नाम बटखंड था। यायावर की तरह बौद्ध भिक्षु यहां आकर सांस्कृतिक चेतना जगाते रहे थे। कई-कई माह तक ये यहां तप व विश्राम करते थे।
बौद्ध धर्म के इस रूप को जानने से इस किले की शान में एक अलंकार ही जुट गया। जैसे आम्रपाली के बहुआयामी फैलाव से लिच्छवी और वैशाली की शान बढ़ी। आज यह ऐतिहासिक धरोहर धीरे-धीरे अपनी पहचान खोने के कगार पर है।
ग्रामीणों का कहना है कि वर्ष 1932 में थाईलैंड के दो भिक्षुक आये थे जो अपने साथ पाली भाषा में ताम्र पत्र लाये थे।
आज भी इसकी शानदार साजसज्जा, दीवारों पर उकेरी गई मनमोहक चित्रकारी सबको बरबस अपनी ओर खिंच रहा है। आज जरूरत है इसे संरक्षित व संबद्धित कर पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की।
*कैसे पहुंचें यहां*:-
भरत खंड किला खगड़िया और भागलपुर जिले के सीमांत में बसा भरत खण्ड गांव में स्थित है।
नजदीकी स्टेशन भरत खंड हॉल्ट है। परंतु यह छोटा स्टेशन है।
इसके नजदीक पसराहा व महेश खूँट स्टेशन भी है।
जिला मुख्यालय का सबसे बड़ा स्टेशन खगड़िया जंक्शन है।जहाँ सभी दिशाओं की गाड़ी का ठहराव है।यहां से भरतखंड 38 किलोमीटर पुर्व में है।
मानसी जंक्शन यहां का दुसरा बड़ा स्टेशन है ।
पसराहा से 6 किलोमीटर, महेश खूँट से 19 किलोमीटर तथा मानसी से 29 किलोमीटर पुर्व में है।
इसके अलावा भरत खंड राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 31 (आसाम रोड) से सीधा जुड़ा हुआ है ।
*सहयोगी साइट*:-
click here
click here
click here
• ***Edited by :- Prabhat Sharan (Local Guide/Google Map)
• Location Link and Picture Source :-
click here

1 Public Posts - Mon Aug 19, 2019

1 Public Posts - Yesterday
  
016
Station Tip
Food/Restaurants
0 Followers
3665 views
Sep 12 2018 (00:02)   DWK/Dwarka (2 PFs)

Imbroglio^~   79632 blog posts   47811 correct pred (79% accurate)
Entry# 3798692            Tags   Past Edits
No Food outlet or Restaurant at station even no Tea vendors because of less number of trains
Station is having only 2 Platforms and widely used PF is 1...
Better to take your food from your near by hotel where you stayed...
#thinkDKG_TravelTips

1 Public Posts - Wed Sep 12, 2018
Page#    10529 Travel Tips  next>>

ARP (Advanced Reservation Period) Calculator

Reservations Open Today @ 8am for:
Trains with ARP 10 Dep on: Sun Sep 1
Trains with ARP 15 Dep on: Fri Sep 6
Trains with ARP 30 Dep on: Sat Sep 21
Trains with ARP 120 Dep on: Fri Dec 20

  
  

Rail News

New Trains

Site Announcements

  • Entry# 4246530
    Mar 02 2019 (12:59AM)


    @all: Regarding the new SCoR zone, our VSKP and other SCoR members are excited and interested to change the train/station zones. We may let them go ahead with it. This piece of info is NOT critical for trains and TTs which would affect regular passengers - so it's FINE. . We may let them...
  • Entry# 4239625
    Feb 22 2019 (10:22PM)


    @all: This is a repeat warning to all that: Anonymous posting may NOT be used to directly address regular members -> like scolding them, commenting about their blogging habits, arguing with them, or ANY other personal comment/remark against any other member, EVEN if it is not offensive. ANY personal remark (even if not...
  • Entry# 4214881
    Feb 01 2019 (07:45PM)


    This is an advance notice of the last and CORE feature of the RailFan app - Trips/Spottings - which will be enabled next week. A week after that, RailFan will go into Open Beta, whereby all members will be able to download the app without providing their email. . The Trip/Spotting feature of...
  • Entry# 4213057
    Jan 31 2019 (05:45AM)


    A few small enhancements will be made to the site in the coming days, regarding Member profiles. . 1. Hereafter, we shall require REAL permanent names of members. Members will have the option of reporting those whose name is fake or not real. An SW will be issued, whereupon the member will have...
  • Entry# 4205675
    Jan 23 2019 (08:11PM)


    This is an advance notice of a small enhancement to the Forum. Within a couple of days, we shall introduce "anonymous posting" for Blogs and Trips. With "anonymous posting", members will still be required to login to your account and abide by all Forum guidelines, but your name will be hidden...
  • Entry# 4200970
    Jan 18 2019 (10:12PM)


    @all: This is to formally announce the END of the RailCal app. Due to the information blockade, the app has lost its value, and has been rendered completely useless. We are unable to support RailCal anymore. Sorry to disappoint our users. . RailCal has already been taken off the Google PlayStore. So once...
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy