Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

ಮೈಸೂರು - ವಾರಣಾಸಿ ಎಕ್ಸ್‌ಪ್ರೆಸ್: ಕಾವೇರಿ ಮತ್ತು ಗಂಗಾ ನದಿಗಳ ಸಂಪರ್ಕ ಸೇತುವೆ - Vishwanath Joshi

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon May 20 06:15:15 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
Page#    360659 news entries  next>>
  
सीतामढ़ी। लंबी दूरी की ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए एक अच्छी खबर। उनको स्टेशन पर बहुत जल्द होटलों जैसी सुविधा मिलेगी। इसके तहत समस्तीपुर मंडल के सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन समेत 11 रेलवे स्टेशनों पर यह सुविधा उपलब्ध होगी। इसके लिए रेलवे के आइआरसीटीसी विभाग द्वारा ए क्लास स्टेशन की रिटायरिग रूम व डोरमेट्री को होटल की तरह विकसित किया जाएगा। यह सुविधा शुरू होने पर यात्री स्टेशन पर पहुंचने से 72 घंटे पूर्व इसकी ऑनलाइन बुकिग करा सकते हैं। हालांकि, इसकी अभी कीमत तय नहीं हो पाई है। यह सुविधा लेने के लिए अभी यात्रियों को थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा। आइआरसीटीसी के अधिकारियों का कहना है कि स्टेशन का रिटायरिग रूम व डोरमेट्री बुकिग चार्ज बाजार के होटलों से सस्ता होगा।
...
more...
बुक करने के लिए देना होगा आईडी प्रूफ:
संबंधित विभाग के अधिकारी ने बताया कि 72 घंटे पूर्व ऑनलाइन रूम बुक करना होगा। देर रात स्टेशन पर पहुंचने वाले यात्री भी मौके पर पहुंच बुकिग करा सकते हैं। रिटायरिग रूम और डोरमेट्री बुक कराने में यात्रियों को आईडी प्रूफ देना होगा। रिटायरिग रूम में होटल की तरह शाकाहारी और मांसाहारी भोजन के अलावा केबलयुक्त रंगीन टीवी की सुविधा भी उपलब्ध होगी। यही नहीं परिवार के साथ ठहरे बच्चों को खेलने के लिए विशेष खिलौनों की भी व्यवस्था होगी। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि कमरे में एसी, रूम हीटर, इंटरकॉम के साथ टूर एंड ट्रैवल्स की भी सुविधा मिलेगी।
क्या कहते हैं अधिकारी :
समस्तीपुर रेल मंडल के सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन के अलावा समस्तीपुर, दरभंगा, नरकटियागंज, बेतिया, मधुबनी, जयनगर, बापूधाम मोतिहारी, रक्सौल, सुगौली व सहरसा स्टेशन के रिटायरिग रूम और डोरमेट्री को विकसित कर होटल जैसा लुक दिया जाएगा। इससे यात्रियों को बेहतर सुविधा उपलब्ध होगी।
----- संजीव कुमार, आइआरसीटीसी अधिकारी, हाजीपुर जोन, पुमरे
  
मध्य (Central Railway), पश्चिम (Western Railway) आणि हार्बर रेल्वे (Harbour Railway) मार्गावरून धावणाऱ्या लोकल ट्रेनमधून (Mumbai Local Trains)  दररोज लाखो चाकरमानी प्रवास करतात. मुंबईची जीवनवाहिनी म्हणून ओळखली जाणारी ही ट्रेन म्हणजे काहींसाठी तर दुसरं घरच म्हणता येईल. येत्या काही दिवसात या लोकल प्रवाश्यांसाठी एक खुशखबर घेऊन येत असल्याची माहिती पश्चिम रेल्वेने आपल्या अधिकृत ट्विटर अकाउंट वरून दिली आहे. ज्यानुसार यापुढे प्रवाश्यांनी एक पर्यटक तिकीट (Tourist Ticket)  काढल्यास त्यांना लोकलच्या तिन्ही मार्गावरून केव्हाही आणि कितीही प्रवास (Unlimited Travel) करता येऊ शकणार आहे. तूर्तास या तिकिटाची वैधता 1 ते  5 दिवसांपर्यंत मर्यादित असणार आहे त्यासाठी वेगवेगळे शुल्क आकारण्यात येतील.
पश्चिम रेल्वे ने केलेल्या ट्विटमध्ये वेगवेगळ्या वैधतेच्या तिकिटांचे दार देखील नमूद करण्यात आले आहेत. ज्यानुसार, सध्या द्वितीय श्रेणी च्या डब्ब्यात प्रवास करण्यासाठी एका दिवसाचे 75
...
more...
रुपये, तीन दिवसाचे 115 रुपये तर पाच दिवसाच्या तिकिटाचे 135 रुपये प्रवाश्यांना मोजावे लागतील. तसेच प्रथम श्रेणीच्या डब्यातून प्रवास करायचा झाल्यास एका दिवसाचे 255  रुपये, तीन दिवसाचे 415 रुपये तर पाच दिवसांचे केवळ 485 रुपये भरून तुम्ही या सवलतीचा लाभ घेऊ शकता. मुंबईकर रेल्वे प्रवाशांना 2019 पर्यंत Mumbai Local मध्ये Free WiFi मिळण्याची शक्यता
पश्चिम रेल्वे ट्विट
Buy a tourist ticket and travel unlimited anywhere in Mumbai by Western Railway, Central Railway & Harbour line trains. #JunctionJaankari pic.twitter.com/Ll2P43QDkO
— Western Railway (@WesternRly) May 19, 2019
पर्यटक प्रवासी तिकीटाची खरेदी करूंन कमी किंवा अजिबात वापर जरी केला नसला तरी तिकीटाची रक्कम परत केली जाणार नाही, मात्र या तिकिटासाठी केलेले पूर्व बुकिंग वैधता लागू व्हायच्या एक दिवस आधीपर्यंत रद्द करता येऊ शकते, यानुसार प्रथम श्रेणीचे तिकीट रद्द करायचे झाल्यास 30 रुपये तर द्वितीय श्रेणीच्या तिकिटासाठी 15 रुपये किंमत आकारली जाईल.
याचप्रमाणे यंदाच्या पावसाळ्यात ट्रेच्या समस्यांवर उपाय म्हणून पश्चिम रेल्वेने नाले सफाई व रुळांची दुरुस्तीचा प्रकल्प अलीकडे हाती घेतला आहे Western Railways: 'पश्चिम रेल्वे' ची मान्सूनपूर्व तयारी, ड्रोन मार्फत सर्वेक्षण आणि नालेसफाईला सुरवात काही दिवसांपूर्वी पश्चिम रेल्वेने महिला प्रवाश्यांच्या सुरक्षेसाठी देखील काही पावलं उचलली होती. ज्यांतर्गत तब्बल 72 लोकल गाड्यांमध्ये टॉक बॅक सिस्टीम सुरु करण्यात आली आहे या सिस्टीमचा वापर करून महिला प्रवाशी संकटाच्या काळात मोटरमन किंवा रेल्वे गार्डशी संवाद साधू शकतात.
  
छिंदवाड़ा. रेलवे ने झांसी मंडल में नॉन इंटरलॉकिंग सहित अन्य कार्य के चलते पातालकोट एक्सपे्रस का परिचालन 13 दिनों तक रद्द करने का निर्णय लिया है। पातालकोट एक्सप्रेस का 19 से 31 मई तक छिंदवाड़ा से दिल्ली सराय रोहिल्ला एवं 18 से 30 मई तक दिल्ली सराय रोहिल्ला से छिंदवाड़ा तक परिचालन नहीं किया जाएगा। इसके अलावा रेलवे ने झांसी मंडल में कार्य के चलते पातालकोट एक्सप्रेस सहित लगभग दो दर्जन से अधिक ट्रेनों का परिचालन रद्द किया है। ऐसे में यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ेगा।
वैकल्पिक रूट पर चलाने की मांग
पातालकोट
...
more...
एक्सप्रेस के 13 दिनों तक रद्द होने से यात्रियों को भारी मुश्किल का सामना करना पड़ेगा। यात्रियों का कहना है कि रेलवे को छिंदवाड़ा से दिल्ली तक चलने वाली एकमात्र ट्रेन को रद्द नहीं करना चाहिए था। अगर किसी कारण से ऐसा नहीं हो सकता तो कम से रेलवे वैकल्पिक मार्ग पर पातालकोट एक्सप्रेस को चलाए। यह भी संभव नहीं है तो छिंदवाड़ा से जहां तक संभव हो वहां तक एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन किया जाए। वहीं कुछ यात्रियों ने पैसेंजर में डिब्बे बढ़ाने की भी मांग की।
ट्रेन से यात्रा के अब यह विकल्प
पातालकोट एक्सप्रेस के रद्द होने से अब छिंदवाड़ा से भोपाल, बीना, झांसी, ग्वालियर, दिल्ली तक यात्रियों को ट्रेन से यात्रा करने के लिए दूसरे विकल्प का सहारा लेना होगा। यात्रियों के पास छिंदवाड़ा से सुबह 7.45 बजे बैतूल पैसेंजर भी एक विकल्प है। यह ट्रेन दोपहर 12 बजे आमला और 1 बजे बैतूल पहुंचती है। हालांकि अक्सर यह ट्रेन दो से तीन घंटे विलंब से ही चलती है। इसके अलावा दोपहर 12.30 बजे छिंदवाड़ा से बोरदई, शाम 5.40 बजे छिंदवाड़ा से आमला एवं शाम को 9 बजे छिंदवाड़ा से इंदौर पैसेंजर भी विकल्प है। इन ट्रेनों के सहारे यात्री बैतूल, आमला रेलवे स्टेशन पहुंच सकते हैं। जहां से ट्रेन के काफी विकल्प मिल जाएगा। इसके अलावा शाम को पेंचवैली पैसेंजर भी रेल यात्रियों की मुश्किल कुछ हद तक कम कर सकती है।
  
Today (02:16) निर्धारित समय पर नहीं चल रही वैशाली एक्सप्रेस (www.jagran.com)
ECR/East Central
0 Followers
244 views

News Entry# 382423  Blog Entry# 4321521   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
सहरसा। पूर्व मध्य रेल सहरसा से नई दिल्ली के बीच चल रही सुपरफास्ट वैशाली एक्सप्रेस निर्धारित समय पर नहीं चल रही है। जिस कारण यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। वहीं विलंब से चल रही वैशाली एक्सप्रेस ट्रेन परिचालन को लेकर रेल अधिकारी चितित है। हालांकि रेल प्रशासन बड़ी मुश्किल से वैशाली एक्सप्रेस के निर्धारित समय पर रेल परिचालन को लेकर एक अतिरिक्त रैक सहरसा का उपलब्ध कई दिनों पूर्व कराया है। इधर सहरसा रेल प्रशासन ने रैक को दुरूस्त कर इसे तैयार भी कर लिया है। लेकिन इस अतिरिक्त रैक में पावर ब्रेक वान नहीं है। पावर ब्रेक वान के लिए रेल प्रशासन उसके जुगत में लगी है। लेकिन रविवार की शाम तक पावर ब्रेक उपलब्ध नहीं हो पाया था। अगर वैशाली एक्सप्रेस सहरसा समय पर नहीं पहुंची तो पूर्व से तैयार अतिरिक्त रैक को वैशाली बनाकर चलायी जा सकती है। लेकिन उसमें फिर पावर कोच लगाना पड़ेगा। पावर...
more...
कोच लगाने में स्थानीय रेलकर्मियों को परेशानी उठानी पड़ेगी।
-------------------------
विलंब से ट्रेन आने के कारण ही ट्रेन रोज हो रही लेट
नई दिल्ली से सहरसा आनेवाली वैशाली एक्सप्रेस सहरसा पहुंचने का निर्धारित समय रात के 08.30 बजे है। लेकिन यह ट्रेन शनिवार की रात करीब एक बजे सहरसा पहुंची। जिस कारण उसका वाशिग विलंब से हुआ। सहरसा से वैशाली एक्सप्रेस वाशिग के बाद रविवार को सुबह 06.15 के बजाय 09.30 बजे सहरसा से खुली। इससे पहले भी शनिवार को वैशाली एक्सप्रेस सुबह 08.15 बजे खुली। अगर सहरसा ट्रेन सही समय पर पहुंचे तो वैशाली सही समय पर चलेगी। अन्यथा एक अतिरिक्त रैक को हर दिन तैयार रखना होगा। जिससे वैशाली का परिचालन सही समय पर हो सके। सहरसा में वैशाली एक्सप्रेस को सही समय पर परिचालन को लेकर स्टेशन अधीक्षक नीरज चन्द्र सहित कैरेज एवं वैगन सीनियर सेक्शन इंजीनियर शंभू कुमार सहित संबंधित अन्य रेलकर्मी परेशान रहते हैं। खुद ही वाशिग पिट में वैशाली की सफाई की मॉनिटरिग करते हैं कि वैशाली का परिचालन निर्धारित समय पर हो सके। हालांकि इस संबंध में स्थानीय रेल अधिकारी कहते हैं कि एक अतिरिक्त रैक वैशाली का तैयार कर लिया गया है। अगर रेल अधिकारी का निर्देश प्राप्त हो गया तो इस रैक को वैशाली बनाकर चलायी जाएगी। अतिरिक्त रैक के परिचालन शुरू होने पर वैशाली एक्सप्रेस का परिचालन सही समय पर होगी। एक दो दिन में इसका निर्णय ले लिया जाएगा।
  
Today (02:15) सहरसा स्टेशन पर यात्रियों को मिलेगी लिफ्ट की सुविधा (www.jagran.com)
ECR/East Central
0 Followers
247 views

News Entry# 382422  Blog Entry# 4321520   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
सहरसा। पूर्व मध्य रेल सहरसा स्टेशन पर यात्रियों को लिफ्ट की सुविधा शीघ्र मिलनी शुरू हो जाएगी। सहरसा स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक और दो पर लिफ्ट निर्माण कार्य कई महीनों से बंद पड़ा था। पूर्व मध्य रेल के नए डीआरएम अशोक माहेश्वरी के पदस्थापन के बाद बंद पड़े रेल परियोजनाओं में काम ही नहीं शुरू हुआ बल्कि काम में तेजी आने लगी है। जिससे सहरसा स्टेशन पर लिफ्ट निर्माण कार्य भी द्रुत गति से चल रहा है। इससे पहले कई महीनों से सिर्फ पक्का निर्माण कार्य करके छोड़ दिया गया था। अब उसमें लिफ्ट लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है। लिफ्ट का दरवाजा सहित अन्य उपकरण लगा दिया गया है। लिफ्ट को सेट करने तैयारी चल रही है। करीब सवा करोड़ की लागत से सहरसा में दो लिफ्ट लगाया जा रहा है। लिफ्ट लगाने का कार्य असीत इजीकॉन प्राइवेट लिमिटेड समस्तीपुर को मिला है।
...
more...
स्थानीय रेल अधिकारी की मानें तो सहरसा स्टेशन पर एक माह के भीतर लिफ्ट काम करने लगेगा। लिफ्ट लगाने के बाद फुट ओवर ब्रिज से किए गए कनेक्शन में टाईल्स आदि लगाना कार्य शेष है। आईओडब्लयू चन्द्र प्रकाश ने कहा कि लिफ्ट लगाने काम चल रहा है। लिफ्ट चालू होने से यात्रियों को बहुत राहत मिलेगी।
----------------------
बूढ़े, बुजुर्ग व दिव्यांग यात्री को मिलेगी सुविधा
पूर्व मध्य रेल सहरसा स्टेशन समस्तीपुर मंडल में ए ग्रेड श्रेणी में शामिल है। जिस कारण प्राथमिकता आधार पर रेल प्रशासन ने सहरसा में लिफ्ट की जरूरत महसूस करते हुए इसे यहां लगाने की स्वीकृति दी गयी थी। प्लेटफार्म नंबर एक से दो पर जाने एवं स्टेशन से बाहर निकलने के लिए प्लेटफार्म नंबर एक पर जाने के लिए यात्रियों को राहत मिलेगी। बूढ़े, बुजुर्ग व दिव्यांग एवं बीमार यात्रियों को अब स्टेशन पर लिफ्ट चालू होने पर काफी राहत मिलेगी। वही सीढ़ी चढ़ने से छुटकारा मिलेगा।
Page#    360659 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy