Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Bookmark
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Jan 18 10:34:35 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search

News Posts by 😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~

Page#    Showing 1 to 5 of 216 news entries  next>>
  
Yesterday (14:42) रेलवे ट्रैक जांचने पहुंची टीम, कहा-हरी झंडी मिली तो एक महीने में परिचालन की तैयारी कर लेंगे (www.bhaskar.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
1833 views

News Entry# 374183  Blog Entry# 4199557   
  Past Edits
Jan 17 2019 (14:43)
Station Tag: Chandrapura Junction/CRP added by 😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~/1769309

Jan 17 2019 (14:43)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by 😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~/1769309
धनबाद/कतरास. यात्रीगण कृपया ध्यान दें... डीसी लाइन पर ट्रेन पुन: दौड़ सकती है। जी हां, कुछ ऐसी संभावनाओं की तलाश में रेलवे जुट गया है। रेल मंत्री पीयूष गोयल के आदेश के बाद डीसी लाइन को फिर से चालू करने की तैयारी शुरू हो गई है। बंद डीसी लाइन का निरीक्षण का दौर शुरू हो गया है। धनबाद रेल मंडल की टीम ने बुधवार को बंद डीसी रेल लाइन पर निरीक्षण का पहला चरण पूरा किया। टीम ने कुसुंडा से सोनारडीह तक निरीक्षण किया।
.
रेल मंत्रालय ने डीसी लाइन पर ट्रेन परिचालन
...
more...
को लेकर रिपोर्ट मांगी
टीम में धनबाद रेल मंडल के सहायक अभियंता शत्रुघन प्रसाद, जे नंदी, विवेकानंद बासू शामिल थे। टीम ने रेलवे ट्रैक, केबिन और रेलवे क्रॉसिंग की स्थिति जानी। कुसुंडा से सोनारडीह पर परिचालन की बाधाओं को समझा। निरीक्षण के दौरान टीम के अधिकारी उत्साहित नजर आएं। टीम के अधिकारियों से रेल दो या जेल दो के आंदोलनकारी मिले। नेतृत्वकर्ता विनोद गोस्वामी से अधिकारियों की बात हुई। अधिकारियों ने उन्हें बताया कि एक सप्ताह के अंदर रेल मंत्रालय ने डीसी लाइन पर ट्रेन परिचालन को लेकर रिपोर्ट मांगी है। इसी को लेकर निरीक्षण किया जा रहा है। किन स्थानों पर क्या कार्य करना है, इसकी जानकारी ली जा रही है। डीजीएमएस की हरी झंडी मिली तो एक माह में डीसी लाइन को ट्रेन परिचालन के लिए तैयार कर लिया जाएगा। टीम से बात कर आंदोलनकारी संतुष्ट नजर आएं। उन्होंने इस पहल पर खुशी मनाई।
.
डीसी लाइन के बंद होने से पुन: चालू करने की तैयारी तक का सफर
जून 2017 में डीजीएमएस ने सौंपी रिपोर्ट ...डीजीएमएस ने डीसी लाइन को लेकर एक रिपोर्ट सौंपी। रिपोर्ट में कहा गया कि बांसजोड़ा में ट्रैक के पास आग का खतरा है। धनबाद से 10.5 किमी दूर सिजुआ से एक किमी आगे अंगारपथरा में भी ट्रैक के आसपास आग बताई गई।
.
शुरू हुआ सबसे बड़ा आंदोलन
रेल की मांग पर कतरास में सबसे बड़ा आंदोलन शुरू हुआ। धनबाद से दिल्ली तक धरना-प्रदर्शन का दौर चला। ट्रेन की मांग कर रही जनता ने कई मौके पर आक्रोश दिखाया।
.
15 जून 2017 को बंद कर दी गईं ट्रेनें
इसी रिपोर्ट के आधार पर रेलवे ने धनबाद-चंद्रपुरा टैक पर 26 जोड़ी ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया। 34 किमी के ट्रैक पर यात्रा थम गई। 6 स्टेशन और 8 हॉल्ट का अस्तित्व खत्म हो गया। 11 हजार यात्री इससे प्रभावित हुए।
.
आया रेल मंत्री का आदेश
सोमवार को दिल्ली से अच्छी खबर आयी। रेल मंत्री ने रेल जीएम एलसी त्रिवेदी से डीसी लाइन की जानकारी ली। रेल मंत्री ने डीसी लाइन चालू करने का आदेश दिया। इस बाबत उन्होंने रिपोर्ट मांगी।
.
सबसे बड़ा सवाल
वही ट्रैक, वहीं आग, फिर आज कैसे हो गई सुरक्षित : ट्रैक वही है, आग भी वहीं पर है... फिर सवाल यह है कि डीसी लाइन जो कल तक असुरक्षित था, वह आज सुरक्षित कैसे हो गया? इस पर ट्रेन क्यों और कैसे दौड़ सकती है?
.
यह तो चुनावी ट्रेन होगी
डीसी लाइन पर पुन: परिचालन शुरू होने का कई अर्थ निकाला जा रहा है। कयास यह भी लगाया जा रहा है कि यह चुनावी निर्णय होगा। सरकार डीसी लाइन पर पुन: ट्रेन दौड़ा कर 10 लोकसभा सीटों के नाराज वोटरों को खुश करना चाहती है।
.
डीजीएमएस ने नहीं दी ट्रैक सुरक्षित होने से संबंधित रिपोर्ट
डीसी लाइन पर ट्रेन पुन: दौड़ाने में कई बाधा है। सबसे बड़ी बाधा डीजीएमएस की वह रिपोर्ट है, जिसके आधार पर डीसी लाइन बंद की गई थी। डीजीएमएस ने अभी हाल में ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं भेजी, जिसमें डीसी लाइन को सुरक्षित बताया गया हो। डीजीएमएस के डीजी पी सरकार ने कहा कि डीसी लाइन के नीचे अाग की स्थिति पर हाल के दिनों में कोई रिपोर्ट नहीं सौंपी।
.
डीआरएम के बाद सीसीआरएस करेंगे निरीक्षण
बताया जा रहा है कि निरीक्षण के दो या तीन चरण अभी शेष हैं। निरीक्षण के दूसरे चरण के तहत गुरुवार को डीआरएम डीसी लाइन का निरीक्षण करेंगे। वे डीसी लाइन की बाधाओं और उसे दूर करने के उपाय से संबंधित एक रिपोर्ट तैयार करेंगे। इस रिपोर्ट को रेलवे बोर्ड भेजा जाएगा। डीआरएम की रिपोर्ट के बाद अंतिम निरीक्षण सीसीआरएस करेंगे।

  
Rail News
1780 views
Yesterday (14:44)
😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~   4615 blog posts   128 correct pred (84% accurate)
Re# 4199557-1            Tags   Past Edits
सबसे बड़ा सवाल
वही ट्रैक, वहीं आग, फिर आज कैसे हो गई सुरक्षित : ट्रैक वही है, आग भी वहीं पर है... फिर सवाल यह है कि डीसी लाइन जो कल तक असुरक्षित था, वह आज सुरक्षित कैसे हो गया? इस पर ट्रेन क्यों और कैसे दौड़ सकती है?
.
Sawal abhi bhi barkaraar hai 🤷

  
1645 views
Yesterday (15:00)
Saurabh®~   10202 blog posts   76 correct pred (58% accurate)
Re# 4199557-2            Tags   Past Edits
election propaganda hai aur kuch nahi DGMS clear kyu karega isko bhala

  
1181 views
Yesterday (15:18)
Sajid Faiyaz~   222 blog posts   20 correct pred (58% accurate)
Re# 4199557-3            Tags   Past Edits
app v wahi samjah jo hum samjah rage the

  
1183 views
Yesterday (16:07)
😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~   4615 blog posts   128 correct pred (84% accurate)
Re# 4199557-4            Tags   Past Edits
Dgms ke clearance ke bina hi train chalane ki tayari shuru ho gayi😂 wah bhai wah 👏👏
dgms to jaise joke ho gaye

  
1084 views
Yesterday (16:16)
Vaastav The Reality^~   53841 blog posts   688 correct pred (56% accurate)
Re# 4199557-5            Tags   Past Edits
Ye sirf kehte hai karte nahi.....itne aasani se nahi chalayenge.
  
Yesterday (14:38) बंद डीसी लाइन पर दाैड़ी डीआरएम की ट्राली, लोकसभा चुनाव से पहले बहाल होगा रेल परिचालन! (m.jagran.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
1878 views

News Entry# 374182  Blog Entry# 4199553   
  Past Edits
Jan 17 2019 (14:38)
Station Tag: Chandrapura Junction/CRP added by 😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~/1769309

Jan 17 2019 (14:38)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by 😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~/1769309
लोकसभा चुनाव से पहले बंद धनबाद-चंद्रपुरा (डीसी) रेल लाइन पर परिचालन की संभावना बढ़ गई है। गुरुवार सुबह धनबाद के रेल मंडल पदाधिकारी अनिल कुमार मिश्रा ने ट्राली पर बैठकर डीसी लाइन का निरीक्षण किया। इसे बंद लाइन को चालू करने का दिशा में रेलवे के बढ़ते कदम के रूप में देखा जा रहा है।
.
धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन पर रेलसेवा शुरू किए जाने की तलाशी जा रही संभावनाओं को लेकर रेलमंत्री पीयूष गोयल की ओर से मिले निर्देश के बाद रेल महकमा में हरकत में आ गया है। गुरुवार को डीआरएम
...
more...
अनिल कुमार मिश्रा ने रेलवे के अधिकारियों के साथ मोटर ट्रॉली पर सवार होकर धनबाद रेलवे स्टेशन से डीसी का लाइन का निरीक्षण करने निकले। वे कुसुंडा होते हुए बांसजोड़ा पहुंचे। बांसजोड़ा में ही रेल लाइन सबसे ज्यादा भूमिगत आग से प्रभावित है। उनके साथ सीनियर डीईएन को-ऑर्डिनेशन बीके सिंह, सीनियर डीएसटीई अजीत कुमार, सीनियर डीईई टीआरडी, सीनियर डीएसओ व सीनियर कमांडेंट विनोद कुमार आदि थे। डीआरएम ने चंद्रपुरा तक ट्रॉली से रेल लाइन का निरीक्षण किया। यह रेल लाइन 15 जून 2017 से बंद है। रेल लाइन बंद होने के कारण इस पर चलने वाली 26 जोड़ी ट्रेनें प्रभावित हुई है।

  
Rail News
977 views
Yesterday (18:16)
ararvindpandeya1991~   112 blog posts
Re# 4199553-1            Tags   Past Edits
Avi DC line chalu krwa do fir jab alternative line ban jayegi to bandh karwa dena

  
819 views
Yesterday (19:19)
😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~   4615 blog posts   128 correct pred (84% accurate)
Re# 4199553-2            Tags   Past Edits
Alternate line bana ke liye kya railway sach me serious hai 🤔 aur agar ha to in 1-1.5 saal me jab se dc line band hai tab se ab tak kya progress hua hai
  
Jan 16 (22:31) Good news for train passengers! Indian Railways links locomotives via ISRO satellites (www.timesnownews.com)
New Facilities/Technology
0 Followers
1460 views

News Entry# 374136  Blog Entry# 4198936   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
The new system will help railways to modernise its control room, railway network for more efficient train movement across its network, said a railways official.
.
New Delhi: Good news for train passengers: the Indian Railways has linked its locomotives via ISRO satellites, making it easy to track trains and automatically feed the control charts about the train's arrival and departure, officials said.
.
...
more...

"A new beginning has been made in the new year: the train movement information is acquired and fed to the control charts using ISRO (Indian Space Research Organisation) satellite-based real-time train information system (RTIS) automatically," a senior railway ministry official told IANS.
.
The official said that the system was implemented on January 8, on some of the mail or express trains on the Shri Mata Vaishno Devi Katra-Bandra Terminus, New Delhi-Patna, New Delhi-Amritsar and Delhi-Jammu routes.
.
The official said the new system will help railways to modernise its control room, railway network for more efficient train movement across its network.
.
The official said, "The move is aimed at further improving the accuracy of train-running information."
.
Explaining how the new system works, the official said the RTIS device installed in the locomotive detects position and speed of the train using GAGAN geo-positioning system, developed by ISRO.
.
"Based on this information and application logic, the device sends the train movement updates (arrival/departure/run through/unscheduled stoppages and mid-section updates) to a central location server in the CRIS data centre using S-band Mobile Satellite Service (MSS) of ISRO," he said.
.
After processing in the CLS, this information is relayed to the Control Office Application (COA) system for automatic plotting of control charts without any manual intervention in the divisions," he said.
.
The official said that earlier, the train running status used to be updated manually.
.
"Before this technique was developed by the CRIS (Centre for Railway Information System) in collaboration with ISRO, the divisional controls set up for the purpose of train movement control were dependent on the information relayed by the station master to the station controller and the data was fed in the control chart by the section controller manually," he said.
.
He said the COA is being already integrated with National Train Enquiry System (NTES).
.
The official said the railways is also working with the ISRO to use its satellite-based system to check accidents at unmanned railway crossings and track train movements.
.
Earlier while Working on a pilot project with ISRO, the railways installed space agency-developed integrated circuit (IC) chips on some train locomotives.
.
"The Indian Regional Navigation Satellite System was used to warn road users of approaching trains through hooters installed at unmanned road crossings," the official said, adding that now the railways has also eliminated all the unmanned level crossing except one in Uttar Pradesh due to some local issues.

  
1263 views
Jan 16 (22:57)
Saurabh®~   10202 blog posts   76 correct pred (58% accurate)
Re# 4198936-1            Tags   Past Edits
That they have placed in the device in the loco will make the system working dependent on that particular loco. Trains routinely get different locos of same shed or offlinks.
Was it possible to place it on any part of the rake like generator van /EOG/guard room to remove this dependency

  
1204 views
Jan 16 (23:03)
prashantg077~   3840 blog posts   3 correct pred (67% accurate)
Re# 4198936-2            Tags   Past Edits
Maybe LP will feed some data as to which train the loco is hauling

  
1109 views
Jan 16 (23:15)
Saurabh®~   10202 blog posts   76 correct pred (58% accurate)
Re# 4198936-3            Tags   Past Edits
If data feeding is concerned , train guards are in better position to feed timing/delay/stoppage or route related data instead of LP.
So, guess that data feeding would be a once per trip job and rest would have been taken care automaically.
  
Jan 16 (12:46) Each rail division gets Rs 20 cr to make one 'model station' under it by March (wap.business-standard.com)
New Facilities/Technology
0 Followers
1072 views

News Entry# 374100  Blog Entry# 4198445   
  Past Edits
Jan 16 2019 (12:46)
Station Tag: Raipur Junction/R added by 😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~/1769309
Stations:  Raipur Junction/R  
Each division of the Indian Railways has been given a corpus of Rs 20 crore to develop one station under it as a model station by March this year, sources told PTI Tuesday.The divisional railway managers of 68 railway zones have been instructed to identify and develop a station of their choice in areas of passenger amenities and infrastructure like provision and maintenance of lifts, foot-over-bridge, seats, platforms, availability of drinking water."All 68 divisions have been asked to develop the railway station of their choice in the next two months. These stations will then be a model to develop other stations in the division. Each will be developed at a cost of Rs 20 crore," the source said.The idea, the source said, is to develop railways stations across the network in phases. With the DRM empowered to not only choose the railway station but also decide on the works to be...
more...
completed, the onus is on the division to complete the works within the given timeline.The divisions have been asked to focus on developing the infrastructure of stations based on footfall and revenue.Some of the stations which are likely to undergo a facelift in the coming months include Lonavala, Varanasi city, Pune, Mathura, Patna, Howrah, Allahabad, Udaipur, Bikaner, Warangal, Delhi Main, Ambala, Raipur, Ahmedabad and Mysore.Meanwhile, the newly appointed Chairman Railway Board Vinod Kumar Yadav held a meeting with the officials of all 68 divisions on Sunday and discussed safety, security, revenue and infrastructure issues.He spoke to officials working in the field and not only took direct feedback from them on various issues but also listened to their problems."He has asked officials to implement the priority projects of the railways in a time-bound manner," the source said.
  
Jan 16 (12:38) यात्री सुविधाएं बढ़ीं, लेकिन अब तक नहीं खुल पाई कैंटीन (m.patrika.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
987 views

News Entry# 374097  Blog Entry# 4198426   
  Past Edits
Jan 16 2019 (12:38)
Station Tag: Deori/DOE added by 😍Aмαʀкαηтαк SF Exᴘʀᴇꜱꜱ😍^~/1769309
Stations:  Deori/DOE  
पनागर। देवरी रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाओं के लिहाज से पिछले कुछ वर्षों में फुट ओवरब्रिज, प्रतीक्षालय, बैठने के लिए कुर्सियां व शेड के साथ वाई-फाई सुविधा शुरू की गई है। बावजूद इसके, यहां यात्रियों के लिए खाने-पीने की कोई सुविधा नहीं है। ट्रेन का इंतजार कर रहे लोगों को यदि कुछ खाना-पीना हो तो स्टेशन और रेलंवे परिसर से काफी दूर जाना पड़ता है। कई बार ट्रेन न छूट जाए, इसके चलते कई यात्रियों व उनके बच्चों को भूखे ही सफर करना पड़ता है।16 ट्रेनों का स्टॉपेज हैदेवरी स्टेशन पर आठ जोड़ी (कुल 16 ट्रेनों) का स्टॉपेज है। नगर समेत आसपास के दर्जनों गांवों के लोग प्रतिदिन बड़ी संख्या में सफर करते हैं। कई बार की मांग के बाद भी अब तक स्टेशन पर कैंटीन की सुविधा शुरू नहीं हो सकी है। सुबह सात बजे से लेकर दोपहर तक और शाम के बाद देर रात तक यहां बड़ी संख्या मेंंं...
more...
यात्रियों की भीड़ रहती है। इनमें छोटे बच्चे भी होते हैं। दूर-दराज के ग्रामीण स्टेशन पर समय से पहुंच जाते हैं पर कई बार ट्रेन लेट होने पर उन्हें व बच्चों को खाने-पीने के सामान की जरूरत पड़ती है। भूख से बच्चे व्याकुल होकर रोते रहते हैं।महिलाओं को होती है परेशानीबजरंग वार्ड के पार्षद रविचरण पांडे ने बताया, सबसे ज्यादा परेशानी अकेले सफर कर रहीं महिला यात्रियों को होती है। वे चाह कर भी भूख से रो रहे अपने बच्चों को कुछ खिला नहीं पाती हैं। यदि स्टेशन पर कैंटीन की सुविधा शुरू हो जाए तो न सिर्फ कुछ युवाओं को रोजगार मिलेगा बल्कि यात्रियों को भी सुविधा होगी।जल्द शुरू हो सुविधापार्षद रविचरण पांडे, जियालाल दाहिया, सुमेर सिंह ठाकुर, भगत चौबे, अशोक यादव, सुदीप जैन, रत्नेश यादव, कमल सिंह ठाकुर आदि ने रेल प्रबंधन व डीआरएम से जबलपुर से स्टेशन पर यात्रियों की सुविधा को देखते हुए जल्द से जल्द कैंटीन शुरू करने का आग्रह किया है।
Page#    216 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy