Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

TKD WDP-4B "प्रतीक" - रंग ऐसा कि हर किसी को प्यार हो जाए - Anubhav Kashyap

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu Nov 21 15:53:09 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Stream
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 385017
  
पलपल संवाददाता, जबलपुर. केन्द्र सरकार द्वारा रेलवे के लिए जो 100 दिन का एक्शन प्लान बनाया गया है, उसके तहत अब रेलवे में चाहे ट्रेन हो, वर्कशाप हो या प्रिंटिंग प्रेस, सभी को निजी हाथों में सौंपने की तैयारी कर ली गई है. सरकार के इस निर्णय को वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन (डबलूसीआरईयू) किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगी, इसके लिए आर-पार का संघर्ष होगा. यह बात यूनियन के पदाधिकारियों ने आज सोमवार 24 जून को डीआरएम आफिस व पमरे के जीएम कार्यालय के समक्ष आयोजित गेट मीटिंग में की.
डबलूसीआरईयू के मंडल सचिव नवीन लिटोरिया व मंडल अध्यक्ष बीएन शुक्ला ने केंद्र सरकार को ललकारते हुए कहा कि भारत सरकार द्वारा रेलवे को दिए गए 100 दिनों के लिए
...
more...
तय किये गए एक्शन प्लान के तहत रेलवे अपनी 7 वर्कशॉप एवं राजधानी एक्सप्रेस, शताब्दी एक्सप्रेस और दुरन्तो एक्सप्रेस गाडिय़ों को प्राइवेट आधार पर चलाने के लिए बहुत तेजी से काम कर रहा है. यूनियन नेताओं ने गरजते हुए कहा कि यह खतरा बहुत ही तेजी से सम्पूर्ण रेलवे के ऊपर मंडरा रहा है यदि हम सतर्क नहीं हुए तो वो दिन दूर नही कि बहुत जल्द वर्तमान सरकार रेलवे का पूर्णतया निजीकरण कर देगी और हम सभी के रोजगार पर इसका गंभीर परिणाम होने वाला है. यूनियन इसका विरोध करता है.
गेट मीटिंग
लगातार निजीकरण की चल रही तैयारी
डबलूसीआरईयू नेताओं ने कहा कि वर्ष 2007 में यूपीए सरकार ने रेलवे के क्षेत्र में एफडीआई लाने की जो भूल की थी, उसे एनडीए-1 के सरकार ने दोबारा से बढ़ावा दिया. एनडीए-1 सरकार में रेलवे के महत्वपूर्ण स्टेशनों को प्राइवेट कंपनियों को बेचने के साथ-साथ अन्य कई कार्य निजी हाथों में दे दिया गया. एनडीए-2 सरकार के गठन के साथ ही रेलवे के कई महत्वपूर्ण प्रोडक्शन यूनिट को निजी हाथ में देने की रूपरेखा तैयार कर ली गई है. आमसभा को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय रेलवे की सभी प्रोडक्शन यूनिट को रेलवे द्वारा निजीकरण की ओर ले जाने के लिए सर्वप्रथम उनका प्रॉफिट सेंटर के रूप में सेंट्रलाइजेशन किया जा रहा है. इसके प्रथम चरण में देश की 7 प्रमुख प्रोडक्शन एंड मेंटेनेंस यूनिट का केंद्रीयकरण करते हुए उन्हें प्राइवेट कंपनियों को सौंपा जाएगा.
यूनियन किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगी
विशाल गेट मीटिंग में यूनियन ने नेताओं ने केंद्र सरकार को ललकारते हुए कहा कि अब बहुत हो चुका निजीकरण, अब सरकार की कार्रवाई बिलकुल भी बर्दाश्त नहीें की जायेगी. इसके लिए यूनियन, एआईआरएफ के माध्यम से पूरे देश में आंदोलन करेगी और आरपार का संघर्ष किया जाएगा.
आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में
जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य
खबर : चर्चा में
1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल
2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा
3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार
4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक
5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन
6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे
7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर
8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट
9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका
10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत
11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

  
Rail News
774 views
Jun 24 (19:52)
visluc1991~   466 blog posts   66 correct pred (68% accurate)
Re# 4350728-1            Tags   Past Edits
At least they should give track safety and maintaince to private sector othersive train accidents will never stop.

  
671 views
Jun 25 (00:26)
ghoshsupritam008~   311 blog posts
Re# 4350728-2            Tags   Past Edits
Rail me kaam nahi karte to islye bola tu ne
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy