Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

संपूर्ण क्रान्ति है तो जहां है

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Tue Oct 19 15:16:36 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
Page#    440353 news entries  next>>
नैनीताल जिले में तीन दिनों से लगातार हो रही तेज बारिश से रेलवे स्टेशन को भी गंभीर क्षति पहुंची है। गौला नदी ने रौद्र रूप दिखाते हुए रेलवे स्टेशन की पटरी को भी उखाड़ दिया है जो बह कर नदी में चला गया है।

जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : नैनीताल जिले में तीन दिनों से लगातार हो रही तेज बारिश से रेलवे स्टेशन को भी गंभीर क्षति पहुंची है। गौला नदी ने रौद्र रूप दिखाते हुए रेलवे स्टेशन की पटरी को भी उखाड़ दिया है, जो बह कर नदी में चला गया
...
more...
है। ऐसे में ट्रेनों का आवागमन भी प्रभावित हो गया है। वहीं कई ट्रेनों को स्‍थगित करने के साथ, कई को शार्ट टर्मिनेट किया गया है। भारी बारिश के चलते काठगोदाम रेलवे स्टेशन की करीब 100 मीटर पटरी नदी में बह गई है। जिससे रेलवे स्टेशन प्रशासन में हड़कंप की स्थिति है। सीनियर सेक्शन इंजीनियर केएन पांडे ने बताया कि सोमवार की देर शाम से ही गोला नदी उफान पर थी। जिससे खतरे की संभावना बनी हुई थी। सोमवार की देर रात काठगोदाम स्टेशन के आगे रेलवे ट्रैक के पास तक पानी पहुंचने लगा और पटरी को नुकसान होने लगा। चौखुटा में घर में मलबा आने से पांच मजदूरों की मौत, एक की हालत गंभीर यह भी पढ़ें देर रात करीब 12 बजे के बाद पानी रेलवे ट्रैक से टकराने लगा। जिसके बाद सुबह जब देखा गया तो रेलवे स्टेशन का बड़ा हिस्सा पानी में बह गया है। जिससे गंभीर स्थिति पैदा हो गई है। रात होने के चलते मौके पर फोटोग्राफी करना भी मुश्किल कार्य हो गया है। ऐसे में रेलवे प्रशासन की ओर से ड्रोन फोटोग्राफर को मौके पर बुलाया जा रहा है। जिससे नदी के बीच में जाते हुए रेलवे स्टेशन व पटरी को हुए कुल क्षति के बारे में नुकसान का आकलन किया जा सके। सीएम की घोषणा पर हरदा ने कसा तंज, कहा-चुनावी साल में सर्वमान्य एनडी सर्वप्रिय हो गए यह भी पढ़ें वहीं लगातार बारिश होने से रेलवे स्टेशन के आसपास खतरा बढ़ गया है। जिला प्रशासन ने भी आसपास के क्षेत्रों में लोगों को सावधान रहने की अपील की है। जिससे लोग नदी किनारे से दूर रहें। रेलवे पटरी के आसपास रहने वाले लोगों को भी भारी बारिश के चलते खतरा बना हुआ है। वहीं रेलवे स्टेशन प्रशासन बाढ़ से बचने के लिए प्रयास करने में जुटा हुआ है। जबकि लाल कुआं से हल्द्वानी व काठगोदाम रेलवे स्टेशन के पास सोमवार की देर शाम से ही ट्रैक पर पानी भर गया था। जिससे आने जाने वाली गाड़ियों को भी रास्ते में ही रोकना पड़ गया था। सोशल मीडिया पर विवादास्पद टिप्पणी करना पड़ा महंगा, पुलिस ने किया चालान यह भी पढ़ें कई ट्रेनें स्‍थगित की गईं उत्‍तर प्रदेश, उत्तराखंड में भारी बारिश के कारण पूर्वोत्तर रेलवे इज्जतनगर मंडल में कई ट्रेनों को स्‍थगित कर दिया गया है। जबकि कई ट्रेनें शार्टटर्मिनेट की गई हैं। इस संबंध में पूर्वोत्तर रेलवे इज्जतनगर मंडल के मुख्य स्टेशनों पर सूचना जारी कर दी गई है। इसके साथ ही रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। काठगोदाम स्‍टेशन के लिए 936870298, हल्द्वानी स्‍टेशन के लिए 9368702979, रुद्रपुर के लिए 9368702984 और लालकुआं के लिए 9368702978 इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। पहली बार नैनीताल झील का पानी ओवरफ्लो हुआ, बोट हाउस क्‍लब का फ्लोर डूबा यह भी पढ़ें यह भी पढ़ें  अल्‍मोड़ा जिले में बारिश बनी काल, पांच लोगों की मलबे में दबकर मौत  बारिश में बह गए कार्बेट नेशनल पार्क में जिप्सी सफारी के रूट, पर्यटन शुरू होने में लगेगा वक्‍त  उत्‍तराखंड में कई मार्गों पर फंसे दिल्ली, हरियाण, चंडीगढ़ के पर्यटक, 11 मार्ग अवरुद्ध यह भी पढ़ें गौला नदी ने दिखाया रौद्र रूप, विशालकाय हाथी फंसा, लोगों ने सुरक्षित स्‍थानों पर ली पनाह  उत्‍तराखंड की नदियां उफान पर, 2013 जैसे आपदा के हालात  ऊधमसिंहनगर जिले में पानी में फंसे दो हजार लोगों को रेस्‍क्‍यू किया गया, युद्ध स्‍तर पर बचाव कार्य जारी यह भी पढ़ें गौला नदी ने दिखाया रौद्र रूप, बह गया काठगोदाम रेलवे स्टेशन का ट्रैक, कई ट्रेनें स्‍थगित  गौला पुल की सड़क भरभरा कर नदी में समाई, पुलिस-प्रशासन ने आवागमन रोका  Uttarakhand Disaster News Updates : रामगढ़ में पहाड़ी से आया मलबा, नौ मजदूरों की दबकर मौत, एक की हालत गंभीर यह भी पढ़ें हरिद्वार से एसडीआरएफ की दो टीमें बचाव कार्य के लिए पहुंचेंगी हल्द्वानी और रुद्रपुर  Edited By: Skand Shukla



जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : नैनीताल जिले में तीन दिनों से लगातार हो रही तेज बारिश से रेलवे स्टेशन को भी गंभीर क्षति पहुंची है। गौला नदी ने रौद्र रूप दिखाते हुए रेलवे स्टेशन की पटरी को भी उखाड़ दिया है, जो बह कर नदी में चला गया है। ऐसे में ट्रेनों का आवागमन भी प्रभावित हो गया है। वहीं कई ट्रेनों को स्‍थगित करने के साथ, कई को शार्ट टर्मिनेट किया गया है।

भारी बारिश के चलते काठगोदाम रेलवे स्टेशन की करीब 100 मीटर पटरी नदी में बह गई है। जिससे रेलवे स्टेशन प्रशासन में हड़कंप की स्थिति है। सीनियर सेक्शन इंजीनियर केएन पांडे ने बताया कि सोमवार की देर शाम से ही गोला नदी उफान पर थी। जिससे खतरे की संभावना बनी हुई थी। सोमवार की देर रात काठगोदाम स्टेशन के आगे रेलवे ट्रैक के पास तक पानी पहुंचने लगा और पटरी को नुकसान होने लगा।



देर रात करीब 12 बजे के बाद पानी रेलवे ट्रैक से टकराने लगा। जिसके बाद सुबह जब देखा गया तो रेलवे स्टेशन का बड़ा हिस्सा पानी में बह गया है। जिससे गंभीर स्थिति पैदा हो गई है। रात होने के चलते मौके पर फोटोग्राफी करना भी मुश्किल कार्य हो गया है। ऐसे में रेलवे प्रशासन की ओर से ड्रोन फोटोग्राफर को मौके पर बुलाया जा रहा है। जिससे नदी के बीच में जाते हुए रेलवे स्टेशन व पटरी को हुए कुल क्षति के बारे में नुकसान का आकलन किया जा सके।



वहीं लगातार बारिश होने से रेलवे स्टेशन के आसपास खतरा बढ़ गया है। जिला प्रशासन ने भी आसपास के क्षेत्रों में लोगों को सावधान रहने की अपील की है। जिससे लोग नदी किनारे से दूर रहें। रेलवे पटरी के आसपास रहने वाले लोगों को भी भारी बारिश के चलते खतरा बना हुआ है। वहीं रेलवे स्टेशन प्रशासन बाढ़ से बचने के लिए प्रयास करने में जुटा हुआ है। जबकि लाल कुआं से हल्द्वानी व काठगोदाम रेलवे स्टेशन के पास सोमवार की देर शाम से ही ट्रैक पर पानी भर गया था। जिससे आने जाने वाली गाड़ियों को भी रास्ते में ही रोकना पड़ गया था।



कई ट्रेनें स्‍थगित की गईं

उत्‍तर प्रदेश, उत्तराखंड में भारी बारिश के कारण पूर्वोत्तर रेलवे इज्जतनगर मंडल में कई ट्रेनों को स्‍थगित कर दिया गया है। जबकि कई ट्रेनें शार्टटर्मिनेट की गई हैं। इस संबंध में पूर्वोत्तर रेलवे इज्जतनगर मंडल के मुख्य स्टेशनों पर सूचना जारी कर दी गई है। इसके साथ ही रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। काठगोदाम स्‍टेशन के लिए 936870298, हल्द्वानी स्‍टेशन के लिए 9368702979, रुद्रपुर के लिए 9368702984 और लालकुआं के लिए 9368702978 इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।
इस्लामपुर से हटिया जा रही ट्रेन गझंडी से कोडरमा की ओर बढ़ रही थी। इस बीच रेलवे ट्रैक पार करने की जल्दबाजी कर रहा शख्स ट्रेन की गिरफ्त में आ गया। उसे इंजन से जोरदार टक्कर लगी। घटना के बाद चालक ने धनबाद कंट्रोल से मदद मांगी।



जागरण
...
more...
संवाददाता, धनबाद। हावड़ा-नई रेल मार्ग पर मंगलवार को दो अलग-अलग हादसे में दो जिंदगियां छीन गईं। पहली घटना धनबाद-गया के बीच कोडरमा के पास और दूसरी मुगमा से कुमारधुबी के बीच की है। दोनों हादसे रेल पटरी पार करने के दौरान हुए। मुगमा कुमारधुबी के बीच हुई घटना के कारण नई दिल्ली से हावड़ा जा रही राजधानी एक्सप्रेस लगभग आधे घंटे तक फंसी रही।मरने वालों की पहचान नहीं हो सकी है।





इस्लामपुर से हटिया जा रही ट्रेन गझंडी से कोडरमा की ओर बढ़ रही थी। इस बीच रेलवे ट्रैक पार करने की जल्दबाजी कर रहा शख्स ट्रेन की गिरफ्त में आ गया। उसे इंजन से जोरदार टक्कर लगी। घटना के बाद चालक ने धनबाद कंट्रोल से मदद मांगी। आरपीएफ और ट्रैकमैन की मदद से उसे मालगाड़ी से कोडरमा लाया गया। प्राथमिक इलाज के लिए रेलवे के डाक्टर भी पहुंच गये। पर सबकुछ बेकार हो गया, क्योंकि सिर पर चोट लगने से उसकी मौत हो चुकी थी। रेल कर्मचारियों ने बताया कि उसके हाथ में मुर्गा था और वह तेजी से पटरी पार कर रहा था। चालक ने अलर्ट करने के लिए हार्न भी बजाया। पर वह संभल नहीं सका और इंजन से टकरा गया।





दूसरी घटना धनबाद-हावड़ा रेल मार्ग पर मुगमा से कुमारधुबी के बीच हुई। रेलवे ट्रैक पर आया शख्स मालगाड़ी की चपेट में आ गया। मालगाड़ी ने उसे रौंद डाला। इस घटना के कारण हावड़ा राजधानी भी मुगमा के पास काफी देर तक ख्ड़ी रही। राजधानी एक्सप्रेस के खड़े होने को लेकर यात्रियों ने सवाल भी खड़े किये। ट्विटर पर शिकायत की गई कि हावड़ा राजधानी पहले ही पांच घंटे लेट चल रही है। उसके बाद भी इसे मुगमा के आसपास रोक दिया गया है। इसके जवाब में आसनसोल के डीआरएम ने ट्वीट कर बताया कि मालगाड़ी के कट कर एक व्यक्ति की मौत हो गई और मृत शरीर रेलवे ट्रैक पर पड़ा था। इस वजह से राजधानी एक्सप्रेस को रोकना पड़ा।
Today (11:55) किसानों का प्रदर्शन, नोकझोंक, स्टेशन गेट पर रोका (www.amarujala.com)
Politics
NCR/North Central
0 Followers
3283 views

News Entry# 467923  Blog Entry# 5098545   
  Past Edits
Oct 19 2021 (11:55)
Station Tag: Chitrakutdham Karwi/CKTD added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092
Stations:  Chitrakutdham Karwi/CKTD  
चित्रकूट। लखीमपुर कांड के बाद केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे और नये कृषि कानून के विरोध की मांग को लेकर जिले में किसान नेताओं ने जिला मुख्यालय और रेलवे स्टेशन के आस पास प्रदर्शन कर रेल रोकने का प्रयास किया। जिला प्रशासन की मुस्तैदी के चलते किसान नेता रेलवे ट्रैक तक नहीं पहुंच पाए। इस दौरान कई स्थानों पर पुलिस और किसानों के बीच तीखी नोकझोंक हुई। जिससे आक्रोशित किसान नेताओं ने गल्ला मंडी परिसर में धरना दिया।विज्ञापनसंयुक्त किसान मोर्चा के आवाहन पर रेल रोको अभियान के क्त्रस्म में भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष राम सिंह के नेतृत्व में सोमवार को किसानों ने गल्ला मंडी परिसर में एकत्र होकर रेलवे स्टेशन कर्वी तक पहुंचे। रास्ते में पुलिस व प्रशासन ने रोकने की कोशिश की लेकिन किसान नहीं माने और स्टेशन तक पहुंच गए। इस दौरान चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात रही। स्टेशन के अंदर घुसने को लेकर पुलिस प्रशासन से...
more...
कहासुनी हुई।जिलाध्यक्ष ने कहा कि देश में राजनीतिक पार्टी की सरकार नही तानाशाही की है। 11 महीने से देश का किसान काले कृषि कानूनों को लेकर किसान आंदोलन कर रहा है, लेकिन हठी सरकार किसानों की बातों को अनसुनी कर रही है। ऐसे में किसान सबक सिखाएगा।इस मौके पर जिला महामंत्री अरुण कुमार पांडेय, वरिष्ठ उपाध्यक्ष उदय नारायण सिंह, शैलेंद्र कुमार सिंह, ब्लाक अध्यक्ष नरेश सिंह, विनय कुमार त्रिपाठी, विजय सिंह, राजकिशोर सिंह, राकेश सिंह, भोला सिंह, बद्री प्रसाद सिंह, शिवदयाल बघेल, रामशरण राजपूत, साधो प्रसाद, रामेश्वर बाबा, छोटे पीढ़िया, नीलकण्ठ द्विवेदी, नरेश तिवारी, कमलेश सिंह, जिला मीडिया प्रभारी देवेन्द्र सिंह आदि मौजूद रहे।फोटो ख्ंिांचवा लीजिए और लौट जाएंचित्रकूट। केंद्र व प्रदेश सरकार की नीतियों के खिलाफ नारेबाजी करते हुए किसान नेता जब जिला मुख्यालय में हाईवे से होते हुए रेलवे स्टेशन के गेट के पास पहुंचे तो पुलिस टीम ने उन्हें रोक लिया। किसानों ने रेलवे ट्रैक तक जाने की जिद की और पुलिस घेरा तोड़ने का प्रयास किया तो सीओ सिटी शीतला प्रसाद पांडेय ने कहा कि देखिये जो बात तय हुई थी बस वहीं तक रहने दीजिए। फोटो खिंच गई है स्टेशन के गेट के पास आकर फोटो खिंचवा लीजिए। इसके बाद किसान नेता भी शांतिपूर्ण तरीके से वहां से लौटे।कई पुलिसकर्मियों ने यात्रियों से की अभद्रताचित्रकूट। किसानों के रेल रोको आंदोलन की ड्यूटी में रेलवे स्टेशन के सामने ड्यूटी पर लगाए गए कुछ पुलिसकर्मियों ने कई बार यात्रियों से अभद्रता की। गालीगलौज देकर उन्हें स्टेशन जाने से रोका गया। कई यात्रियों ने इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल से की है।

Rail News
3154 views
Today (12:00)
Bundelkhand Expressway The Game Changer
SPSingh~   901 blog posts
Re# 5098545-1            Tags   Past Edits
1 compliments
😂🤣
Interesting news in this section 😝
फोटो खिंचवा लीजिए और लौट जाएं
किसानों ने रेलवे ट्रैक तक जाने की जिद की और पुलिस घेरा तोड़ने का प्रयास किया तो सीओ सिटी शीतला प्रसाद पांडेय ने कहा कि देखिये जो बात तय हुई थी बस वहीं तक रहने दीजिए। फोटो खिंच गई है स्टेशन के गेट के पास आकर फोटो खिंचवा लीजिए। इसके बाद किसान नेता भी शांतिपूर्ण तरीके से वहां से लौटे।
Today (14:45) बारिश मेंं सुरक्षित ट्रेन संचालन के लिए रेलवे प्रशासन ने ट्रेन चालकों को किया अलर्ट, जानें क्या निर्देश दिए (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
501 views

News Entry# 467932  Blog Entry# 5098648   
  Past Edits
Oct 19 2021 (14:45)
Station Tag: Moradabad Junction/MB added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
Stations:  Moradabad Junction/MB  
मुरादाबाद, जेएनएन। Railway Alerts Train Drivers : लगातार बारिश होने के कारण रेल प्रशासन ने ट्रेन चालकों को सतर्क किया है।ट्रेन चालकों से कहा गया है कि रेललाइन के किनारे तेज बहाव से पानी बहते मिलेे तो तत्काल कंट्रोल रूम को सूचना देंं। लगातार बारिश होने से लक्सर देहरादून मार्ग पर भूस्खलन होने का खतरा अधिक है। इस लिए इस मार्ग पर विशेष निगरानी करानेे के निर्देश रेल प्रशासन ने दिए हैं।
मुरादाबाद रेल मंडल के सभी क्षेत्रों में रविवार से लगातार बारिश हो रही है। अधिक बारिश होने के कई स्थानों पर रेललाइन के किनारे तेज पानी के बहाव के कारण रेललाइन के नीचे की मिट्टी बह जाने का खतरा बना रहता है। इस बीच नदियों का जलस्तर बढ़ना शुरू हो गया
...
more...
है। जिससे रेल ब्रिज के पास भी मिट्टी का कटान हो सकता है। पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन होने का खतरा अधिक होता है। मंडल रेल प्रशासन सुरक्षित ट्रेन संचालन के लिए चालकों को विशेष निर्देश जारी किए हैंं। रेललाइन के किनारे तेज बहाव से पानी बहते देखें तो ट्रेनों को धीमी गति से चलाएंं और इसकी सूचना कंट्रोल रूम को दे।
प्रशासन ने रेललाइन निगरानी के लिए कर्मचारी तैनात किए हैंं। लक्सर से देहरादून के बीच पहाड़ है, जिससे यहां भूस्खलन होने की संभावना अधिक होती है। इस मार्ग पर विशेष निगरानी कराई जा रही है। लगातार बारिश होने से कई क्षेत्रों में सिग्नल खराब होने की सूचना मिली है। कर्मचारियों ने सूचना मिलते ही खराबी को ठीक कर दिया है। प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि बारिश के बाद चालक व रेलवे कर्मचारियों को सतर्क रहने का आदेश दिया है। बारिश होने से अभी रेललाइन पर पानी आने की सूचना नहीं है।
Today (14:42) रेलवे स्टेशनों पर डीजल और पेट्रोल वाहनों के प्रवेश पर लगेगी रोक, जानें कब से होगा ये, यात्री कैसे जाएंगे स्टेशन (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
574 views

News Entry# 467931  Blog Entry# 5098644   
  Past Edits
Oct 19 2021 (14:42)
Station Tag: Moradabad Junction/MB added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
Stations:  Moradabad Junction/MB  
मुरादाबाद, (प्रदीप चौरसिया)। Ban on Diesel Petrol vehicles : रेलवे स्टेशनों के परिसर में जल्द ही पेट्रोल और डीजल के वाहनों के प्रवेश पर रोक लगने वाली है। ऐसा प्रदूषण को देखते हुए किया जाएगा। रेल प्रशासन रेलवे स्टेशनों को प्रदूषण मुक्त बनाने की तैयारी में है। इसके लिए बड़े स्टेशनों से पेट्रोल व डीजल के वाहन आने पर रोक लगाई जाएगी। उसके स्थान पर ई टैक्सी चलाई जाएगी। मुरादाबाद रेल मंडल के चार स्टेशनों से 40 ई टैक्सी चलाने की योजना है।
राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण प्रदूषण मुक्त कराने के लिए सभी विभागों को लगातार आदेश दे रहा है। इसके बाद रेल प्रशासन प्रदूषण मुक्त स्टेशन बनाने की योजना तैयार की है। जिसके तहत बिजली जाने पर जनरेटर चलाने के बजाय बिजली के
...
more...
लिए स्टेशनों की छतों पर सौर ऊर्जा के सिस्टम रेलवे लगा रहा है। इलेक्ट्रिक इंजन चलाने के लिए तेजी से विद्युतीकरण का काम किया जा रहा है। जिससे क्षेत्र में विद्युतीकरण का काम हो चुका है, उस क्षेत्र में डीजल इंजन के बजाय इलेक्ट्रिक इंजन से मालगाड़ी व ट्रेनों को चलाया जा रहा है। वर्तमान में ट्रेनों से आने व जाने वाले यात्रियों के लिए स्टेशन पर डीजल व पेट्रोल से चलने वाली टैक्सी उपलब्ध होती है।

रेल प्रशासन अब बड़े स्टेशनों को प्रदूषण मुक्त स्टेशन बनाने जा रहा है। डीजल व पेट्रोल की कार व मोटर-साइकिल पार्किंग को स्टेशन परिसर से हटाकर दूर करने जा रहा है। मुरादाबाद स्टेशन पर इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है। रेल प्रशासन इम्पीरियल तिराहे के पास पार्किंग स्थल बना रहा है। स्टेशन परिसर में केवल सीएनजी चलने वाली वाहन या ई टैक्सी को आने की अनुमति दी जाएगी। रेलवे ने इसके लिए मुरादाबाद, बरेली, रुड़की व हरिद्वार स्टेशन पर 40 ई टैक्सी चलाने के लिए प्राइवेट एजेंसी को लाइसेंस देने की योजना तैयार की है।
स्टेशन परिसर में हरियाली के लिए पेड़ पौधे लगाए जाएंगे। ई टैक्सी की जिम्मेदारी प्राइवेट एजेंसी को दी जाएगी। ई टैक्सी को चार्ज करने के लिए तीन चार्जिंग प्वाइंट बनाए जाएंगे। चार्जिंग के के लिए आधुनिक उपकरण लगाए जाएंगे, जिससे आधे घंटे में वाहन चार्ज हो जाएंगे। यहां केवल स्टेशन से संचालित होने वाली ई टैक्सी को चार्ज किया जाएगा। प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि प्रदूषण मुक्त स्टेशन बनाने के लिए मुरादाबाद समेत चार स्टेशनों पर ई टैक्सी चलाने की योजना है। ई टैक्सी चलाने वालों से नियमानुसार रेलवे प्रत्येक माह शुल्क लिया जाएगा। मुख्यालय से अनुमति मिलते ही ई टैक्सी का संचालन शुरू हो जाएगा।
Page#    440353 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy